गले में कैंसर के लक्षणों में शामिल हो सकते हैं:

गले में कैंसर के लक्षणों में शामिल हो सकते हैं:

गले में दर्द या तकलीफ: गले में कैंसर के मुख्य लक्षण में से एक दर्द या तकलीफ हो सकती है। यह जब भी खाना खाने या बोलने के दौरान बढ़ सकती है।
गले में खराश या गले में कुछ अटकने की अनुभूति: कैंसर के कुछ मामलों में गले में खराश या गले में कुछ अटकने की अनुभूति होती है।गले में कैंसर होने से पहले दिखने लगते हैं ये सारे लक्षण
स्वाल्प अस्वस्थता: कुछ मामलों में गले में कैंसर होने पर स्वाभाविक तौर पर स्वाल्प अस्वस्थता आती है।
स्वाल्प स्वरगति कम होना: कुछ मामलों में गले में कैंसर होने से स्वाल्प स्वरगति कम हो सकती है।

आपकी आवाज में बदलाव भी हो सकता है।
गले में फोड़ा या घाव: कुछ मामलों में गले में कैंसर के कारण एक फोड़ा या घाव भी हो सकता है।
गले में फुंसी या सूजन: कैंसर के कुछ मामलों में गले में फुंसी या सूजन हो सकती है। Edit status
आपके गले को हेल्दी रखने के लिए उपाय

गले को स्वस्थ रखने के लिए कुछ उपाय हैं।

  • गले में कैंसर होने से पहले दिखने लगते हैं ये सारे लक्षण

    सही खान-पान: एक स्वस्थ आहार के लिए सुनिश्चित करें जो आपके गले को उपचार करता है। ज्यादा तला, तीखा, तला और बहुत स्पाइसी भोजन खाने से बचें। शुगर और वसा की मात्रा भी कम करें।
    अदरक-लहसुन का उपयोग: अदरक-लहसुन का उपयोग गले से संबंधित समस्याओं को दूर करने में मदद करता है।
  • अदरक या लहसुन को थोड़े से शहद के साथ मिलाकर चाटने से भी लाभ होता है।
    उपयोग गर्म पानी: रात में सोते समय गर्म पानी पीना गले के लिए बहुत अच्छा होता है। गर्म पानी में नमक या शहद मिलाकर और लेमन का रस भी डाल सकते हैं।
    सुखी ठंडी हवा: सुखी ठंडी हवा के साथ बाहर जाना गले के लिए बहुत अच्छा होता है।
  • यह आपके गले के एलर्जी या संक्रमण से बचाने में मदद करता है।गले का व्यायाम: स्वस्थ रखने के लिए गले के व्यायाम करना बहुत अच्छा होता है। आप गर्दन के साथ कुछ सरल व्यायाम कर सकते

दांत दर्द के कारण और घरेलू उपचार

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.