सीने में दर्द क्यों होता है यह है इसके लक्षण और घरेलु उपाय

सीने में दर्द के कई कारण हो सकते हैं सीने में दर्द क्यों होता है यह है इसके लक्षण और घरेलु उपाय?छाती के इस चुभन से एक हल्का दर्द भी हो सकता है छाती में दर्द के दौरान बहुत तेज दर्द होना या दबाव किया जा सकता है यह छाती दर्द कंधा से जबडे में होता हुआ बाजू और कंधे तक भी देखा जा सकता है इसके साथ आपको उल्टी घबराहट होना ऐसे लक्षण देखे जा सकते हैं

जानिये क्यों होता है सीने में दर्द सीने में दर्द क्यों होता है यह है इसके लक्षण और घरेलु उपाय

दोस्तो क्या आपके छाती में दर्द रहता है या चलते फिरते समय या सांस लेते वक़्त छाती में बहुत भारी लगता है क्या आपको डर तो नहीं लग रहा है कि यह दिल का दर्द हो सकता है।अगर आपके टेस्ट करें हैं और आपके सारे के सारे टेस्ट नॉर्मल आ गए इसके क्या कारण है दर्द का इसे कैसे इलाज करें इससे जुडी सारी जानकरी सब जाने के लिए इस लेख को अंत तक पढ़े।

हम अपने छाती के ऑर्थोपेडिक पार्ट की बात करें मसल्स की बात करें तो बीच में एक हड्डी होती है जिसे हम ब्रेस्ट बोन भी बोलते हैं या साइंटिफिक भाषा में स्टर्नम भी बोला जाता है।पीछे की तरह हमारी रीड की हड्डी होती है मैं और हड्डी से हमारे इस स्ट्रैनम की तरफ लगते हैं

हम जब भी कोई भारी चीज उठाते हैं बेशक वह ऐसा ही तारिका है पर उठाते समय यदी कोई पसली खींच जाएं तो ऐसे में भी हमारे सीने में दर्द होना आम बात हो जाती है

इस लेख में हम बात कर रहे हैं चेस्ट दर्द के बारे में यह सबसे ज्यादा दर्द देने वाला लक्षण होता है जब भी किसी को तो हर किसी का ध्यान सबसे पहले इस तरफ जाता है कि कहीं यह दिल की वजह से तो नहीं है लेकिन मैं आपको बता दे कि हर दर्द का कारण होता है।

अगर आप इस लेख को ध्यान से पढ़ेंगे तो आपको पता चलेगा कि सीने में दर्द के कारण क्या है

  1. खाना खाने के बाद होने वाला सीने में दर्द-हम जो खाना खाते हैं वह मुंह के द्वारा भोजन की नली में जाता है यह नली गले और पेट के बीच में होती है जैसे छोटी आंत से बड़ी आंत से होकर किडनी तक पंहुचता है यह पूरा प्रोसीजर होता है खाया हुआ खाना डाइजेस्ट होकर शरीर के एनर्जी प्रदान करता है ढग से डाइजेस्ट नहीं होता तो गैस का निर्माण करता है ऐसे कई लक्षण होते हैं जैसे गैस उल्टी समस्या होती है पेट की गड़बड़ी के कारण हो सकते हैं अधिक मसाले वाले खाना खाना पेट में जलन अगर खाना खाने के तुरत बाद आपको सीने में जलन से महसूस होती है तो इसे इग्नोर ना करे तुरंत डॉक्टर की सलाह ले।

  1. सांस लेते समय दर्द होना-दिल की बीमारी में आदमी जानना चाहता है कि समझे कैसे कि दिल की बीमारी है या नहीं?कोई तो बोलता है छाती में दर्द होती है जलन होती है तो यह सारे छाती में बताया जाएगा पहले इसमें बताया जाएगा कितने सबसे कॉमन क्या है सांस लेने में अगर आपको तकलीफ है तो घबराएं नहीं यह बिल्कुल आम दर्द होता है जब आप लंबी गहरी सांस लेते हैं तब आपके सीने में दर्द होने लगता है.दोस्तों यदी आपको शहरी जो सर्दी जुकाम होगी या आपको स्मोकिंग की आदत हो तो ऐसे में हो सकता है कि आपकी फेफड़ों में इंफेक्शन की समस्या सकती है आपके फेफडों के अंदर गांठ का बन जाना या किसी कारण में पानी का भर जाना यह आपको गहरी सांस लेने में दर्द दे सकता है।इनमें से आपको कोई लक्षण नजर आ रही हो तो आप डॉक्टर से मिले और जांच करवाएं और सही से इलाज करवाएं।

  1. सीने में चुभन भरा दर्द होना-हॉट हमारे शरीर का खास हिस्सा है इसका काम है शरीर में ब्लड का सप्लाई करना। अगर दिल अस्वस्थ होगा तो उसका असर आपके पूरे शरीर में पड़ेगा दिल को स्वस्थ रखने के लिए आपको उसमें हो रहे बदलाव पर गौर करना चाहिए।ऐसा ही एक लक्षण है दिल में चुभन की समस्या छाती में जलन होना कोई आम बात नहीं है इसके पीछे का कारण होते हैं जिनके बारे में हम बताएंगे आपको इस लेख में निमोनिया की समस्या होने पर सिना में दर्द या चुभन की समस्या होती है इसके अलावा सांस फुलने खांसी की समस्या भी हो सकते हैं इसके अलावा आप को दिल फुल ना की प्रॉब्लम भी हो सकती है गहरी सांस लेने की समस्या अगर आपको दिल में चूबन होती है तो आप तुरत डॉक्टर के पास जाने यह हार्ट अटैक के लक्षण भी हो सकते हैं

  1. ऑक्सीजन की कमी के कारण सीने में दर्द होना-शरीर में ऑक्सीजन की कमी कैसे आ जाते हैं ऑक्सीजन के लेवल को बढ़ाने के घरेलु तारिका क्या है आज मैं आपके सभी सवालों का जवाब मैं आपको देती हूं ऑक्सीजन की कमी के सबसे बड़ा कारण आपकी शरीर के अंदर ही है जब बच्चों को सर्दी हो जाती है तो उनके माता-पिता को लगता है कि उनको सर्दी हो गई है वह काफी परेशान हैं हमें दवा खिलाते हैं लेकिन जो कफ है वह बच्चे के शरीर के अंदर ही रहता है और जब यह कफ हमारे शरीर के अंदर रहता है तो या छाती में जाकर जम जाता है।और हम बहुत खुश हो जाते हैं कि हमने तो दवा खा ली है हमारी सर्दी ठीक हो गई है लेकिन आगे आने वाली बीमारी का एक बहुत बड़ा लक्षण है पहले के समय में सभी लोग बोलते हैं कि नाक बह रही है तो बहने दो इसके पीछे भी बहुत बड़ा लॉजिक था कि जब नाक से निकलते हैं तो हमारे शरीर में कफ की परेशानी नहीं जब कब की परेशानियां नहीं होती हैं तब हम बड़े-बड़े बिमारियों से बच जाते हैं कफ कार्बन डाइऑक्साइड का स्रोत है जैसे कि हमारे शरीर को कार्बन डाइऑक्साइड का जमने लगता है तो हमारे शरीर को ऑक्सीजन लेवल को कम कर देता है हमारी खांसी होती है या नाक बहने लगती है या हमारी खासी के थ्रू कभी बाहर आने लगते हैं तो आप अच्छी तरह से निकाले या कोई बीमारी नहीं है या कोई बीमारी नहीं है या तो आपको बड़ी बीमारी होने से रोक रहा है इसीलिये जब भी आपको सर्दी या खांसी हो जाए तो आपको दवा लेने की कोशिश ना करें बल्की किसी प्राकृतिक उपचार का इस्तेमाल करके इसे खत्म करे

सीने में दर्द के घरेलु उपाय क्या है

पेट दर्द के 10 कारण ,जलन और उपाए (stomach pain )

दोस्तों मैं आपको कुछ घरेलू नुस्खे बताऊंगा जो बहुत ही आसान है जो कुछ ही महिनो में आपको दिल में कितनी भी बड़ी समस्या हो आपको तुरंत आराम दिलाएंगे।तो उसे पहले मैं आपको बताना चाहता हूं कि अगर आप खाने पीने में गलत तेल का इस्तेमाल करते हैं जैसे कि रिफाइंड तेल का इस्तेमाल कर रहे हैं तो हमेशा के लिए बंद कर दे बहर का खाना बिल्कुल बंद कर दीजिए अगर आप हार्ट अटैक के खतरों से बाहर आना चाहते हैं तो अपने लाइफ स्टाइल को सुधार ले।

अगर आप कुछ भी फिजिकल एक्टिविटी नहीं करते हैं प्राणायाम नहीं करते हैं तो आज से ही शुरू करें आपको किसी ना किसी रूप में फिजिकल एक्टिविटी करनी ही करनी है और प्राणायाम तो जरूर करनी है अगर आपकी छुट्टी का दिन है संडे है तभी आपको प्राणायाम जरूर करना है क्योंकि हार्ट के ब्लॉकेज में प्राणायाम करते हो तो बहुत जल्दी आप अपने ब्लॉकेज खत्म कर सकते हैं और उसके साथ जो मैं आपको घरेलू नुस्खे बताऊंगी तो कुछ महिनो में एक दो महिनों में ही आपके दिल में जितनी भी समस्या है सारी दूर हो जाएंगे

अगर आपको छाती में भी दर्द महसूस होता है चलने फिरने में सांस फूलती हो या छाती में भरीपन आ रहा है जकड़न आ रहे हो या चेस्ट के आसपास कहीं भी कमर में दर्द हो तो फिर उनको पता चल गया हो कि उनके हाथों में प्रॉब्लम आ गए हो तो सबके लिए ये घरेलू नुस्खे बहुत ही कारगार साबित होने वाली है आपके घर में सारी चिजे बहुत ही इजीली मिल जाएगी

लौकी अदरक नींबू प्याज लहसुन अर्जुन की छल दालचीनी और हल्दी यह सब तो आपके घर में ही जाति है तो करना क्या है मैं आपको दो तीन प्रयोग बताऊंगा उन में से कोई एक प्रयोग आपको अपनाना है जो आपको सूट करें जिससे आपका कोई और प्रॉब्लम ना हो और आसनी से आप इसे कर सकें।

अगर आपके घर में लहसुन हैं और आपको गर्मी नहीं होती है तो आप लहसुन के तीन-चार कलियां ले लीजिए और सुबह के वक्त उसे कूटना है अच्छे से कुट लेने के बाद एक चम्मच में निकाल जए और ऊपर से एक कप दूध पि लें। आपको खाली पेट करना है यह करने के लिए आपको 30 से 40 मिनट तक कुछ भी खाना पीना नहीं है 30 40 मिनट के खराब आप नाश्ता कर ले आपको पानी 10 से 12 गिलस जरूर पीने हैं और साथ में प्राणायाम भी जरूर करना है।

दूसरा प्रयोग है लौकी लौकी का आप जूस पि सकते हैं या जूस किसी को ठंडा पड़ जाता है या किसी को कोई और तरह का दर्द होता है या दर्द की समस्या होती है जब आप लौकी का जूस निकालते 1है तो आप एक छम्मक पुदीने का रस एक छम्मच तुलसी का रस और एक छम्मच अदरक का रस मिला सकते हैं उसके साथ आप सेवन करके देख लीजिए

एक हफ्ता सेवन करने से आपको पता चल जाएगा के यह आपको कितना फायदा हो रहा है लौकी बहुत ही फायमांड होते हैं कोलेस्ट्रॉल को घटने में अगर आप लौकी का जूस का प्रयोग डेली करते हैं तो 1 माहीने में ही आपका कोलेस्ट्रॉल बहुत ज्यादा हो जाएगा साथ ही में अगर आप लौकी की सब्जी का भी प्रयोग करते हैं तो यह बहुत ज्यादा फायदा मिलेगा।

 

तीसरा प्रयोग है आपको लेना है एक दो नींबू का टुकड़ा एक टुकड़ा अदरक का तीन से चार दालचीनी पाउडर ले सकते हैं यह तीन चीजें मिलाकर एक कप पानी में पकाना है।5-6 मिनट तक इसे खूब उबाले जब यह काड़ा थोड़ा कम हो जाए तो आप इसे ग्राइंडर मशीन में पीस लीजिए अगर यह अच्छे से पीसी जाती हैं तो आप इसे ऐसे ही पि सकते हैं पानी को छ छान कर भी पी सकते हैं यह भी आपको डेली करना है इसे भी आपकी छाती की सारी प्रॉब्लम दूर हो जाएगी।

 

चौथा प्रयोग है अर्जुन की छल का यह बहुत ही ज्यादा असरदार नुस्खा है आपको करना क्या है या तो आप अर्जुन की छाल को चाय बनाकर पी सकते हैं जैसे कि आप नॉर्मल चाय की पत्ते डालकर चाय बनाते हैं तो उसी तरह आप अर्जुन की छाल बांधनी है आप दूध में भी अर्जुन की छाल पका कर पी सकते हैं इसमें आप थोड़ी दाल चीनी की पाउडर डाल दीजिए यह काड़ा बनाकर आपको सुबह शाम पिनी है अगर आप यह करते हैं तो आपको बहुत ही जल्दी अपनी दिल की प्रॉब्लम से निजात पा सकते हैं।

 

यह जो मैंने चार नुस्खा बताते हैं इसमें चारो में से आपको एक नुस्खा प्रयोग करें आप इसे रोजाना करें जब तक कि आपके दिल की समस्या दूर न हो जाए उसके साथ आपको प्राणायाम भी जरूर करना है आप में दोनो चीजों को रोजाना करते हैं तो बहुत जल्दी आप देखेंगे कि आपका रक्त बिल्कुल साफ होगा और आपको कभी भी दिल की समस्या नहीं होगी।

 

कैसे पता लगाएंगे कि यह दर्द दिल का दर्द है या सामान्य दर्द सीने में दर्द क्यों होता है यह है इसके लक्षण और घरेलु उपाय

 

दोस्तों मैं आपको बताऊंगा कि सीने में दर्द होने के क्या-क्या कारण हो सकते हैं अगर छाती में दर्द होता है तो आपको डर लगता है कि आपको दिल की तकलीफ तो नहीं है दिल के अंदर कोई समस्या नहीं आ गई दोस्तों छाती के दर्द के बहुत सारे कारण होते हैं लेकिन उन में से कुछ कारण है जो मैं आपको बता रहा हूं

 

छाती में जो दर्द होता है वह मसल्स के अंदर स्ट्रेन आ जाता है चेस्ट के अंदर पसलियां होती है कभी-कभी मसल्स के अंदर खिचाव आ जाती है तो भी हमें चेस्ट में पेन होने लगता है यह खिंचाव तब आता है जब सोते समय या उठने वक्त मसल्स के अंदर जोर पड़ जाता है।

 

आज मैं बता रही हूं कि आप अपनी छाती के दर्द को कैसे पहचानेंगे कि यह हार्ट अटैक है या कुछ और

 

गैस का दर्द आम तौर पर बहुत होता है ज्यादातर उसमे खट्टे डकार आते हैं स्वाद चेंज हो जाता है पेट में जलन हो जाती है आपके पेट में भी कई बार दर्द होता है उलटी होती है यह सब चीजों से आप पहचान सकते हैं कि या गैस की दर्द है उनके छाती में भारीपन होता है

 

जब हार्ट अटैक होती है तो घबराहट होना पसंद आना पूरा चेहरा भीगना दर्द कहीं भी जा सकता है जबड़े में जा सकता है शोल्डर में जा सकता है हाथ जा सकता है यह दर्द एक जैसा है क्योंकि आपके खाने की नली और पेट इनके पास ही हैं तो अंदर के जो हमारे अंग हैं उसमें भगवान ने बहुत ही सटीक सिस्टम बनाया है।

 

आपकी उँगलिया में दर्द होती है तो आप यह नहीं बोल सकते हैं कि हमारे किडनी में दर्द हो रहा है लेकिन अगर आपके अंदर दर्द होता है तो आप बोलते हैं पेट में दर्द हो रहा है सिना में दर्द अंदर हमें बिल्कुल नहीं पता होता है कि हमारा दर्द कहां है किडनी के नीचे वाले उसके में दर्द है

 

सिना के दर्द से बचने की दवा सीने में दर्द क्यों होता है यह है इसके लक्षण और घरेलु उपाय

 

नुस्खे अपने तो जल्दी ही आपको पता चल जाएगा Antacid Tablets टैबलेट अपने पास जरूर रखें बहुत आम ही मिल जाता है बाजार में वह देखेंगे अगर आपको दर्द में आराम मिलता है तो आपको पता चलेगा कि यह गैस का दर्द है

 

दूसरा अपने घर में एक और चीज रखे वह हैं Sorbirate tablets यह आपकी जान कभी भी बचा सकते हैं यह छोटी सी दिल की शेप में गोली आती है वह अगर आप जिभ के नीचे रखेंगे तो वह आपको हार्ट अटैक में उसी वक्त थोड़ा ब्रेक लगा सकते हैं जिससे आपके खून की सप्लाई आ जाए

 

आप ईसीजी भी करवा सकते हैं अगर आप ECG का टेस्ट करवाएंगे तो आपको पता चलेगा कि आपकी हॉट नॉर्मल है या फिर दिल में कुछ प्रॉब्लम है अगर आपकी ईसीजी की रिपोर्ट सही आती है तो आपको घबराने की कोई जरूरत नहीं है।

 

सीने में दर्द का इलाज क्या है सीने में दर्द क्यों होता है यह है इसके लक्षण और घरेलु उपाय

 

सीने में दर्द का इलाज उसके होने वाले दर्द पर निर्भार करता है आपके डॉक्टर दवा सर्जरी तरिकों के साथ आपके छाती का दर्द का इलाज कर सकते हैं

 

दिल से संबंध करने से होने वाले सीने में दर्द के इलाज में शामिल हैंसीने में दर्द क्यों होता है यह है इसके लक्षण और घरेलु उपाय

 

  • अगर आप सीने के दर्द की दवाई ले रहे हैं जिसे आपकी धमनियां खुलती हो या फिर खून जो थक्का होता है इस्तेमाल करने के लिए रक्त को पतला करने वाली दवाइयां लेती हो
  • कार्डियक कैथेड्रल धामनियों को खुलने के लिए गुब्बारे या स्टैंट का इस्तेमाल करना शामिल हो सकता है
  • धमनियों की सरजीकल मर्ममत जैसे कोरोनरी धमनी बाईपास ग्राफ्टिंग या बाईपास सर्जरी कहा जाता है

 

छाती से सम्बंधित प्रश्न उत्तर

 

सांस लेने में सीने में दर्द क्यों होता है

 

यह कई वजह से हो सकता है किसी बीमारी के लक्षण या फेफडों में चोट लग गई किसी और बीमारी होने की स्थिति में सांस लेने के दौरान छाती में दर्द के साथ-साथ और भी लक्षण देखने को मिलेंगे.जैसे खासकर आवाज़ में करकष बुखार शरीर में कब कपकपी आदि के कारण भी सांस लेने में सीने में दर्द होता है।

 

सीने में दहिनी और दर्द होने का कारण क्या हो सकता है

 

छाती के दाहिने हिस्से में दर्द होने के कई कारण हो सकते हैं लेकिन ज्यादातार छाती की तकलीफ दिल से संबंध नहीं है क्योंकि छाती का अंग मिलकर बनता है छोटी कई उत्तकों से मिलकर बनता है ऐसे में यदी कोई अंग में दर्द होता है तो छाती दर्द होना स्वभाविक हो जाता है।

 

लेफ्ट चेस्ट में दर्द का क्या कारण हो सकता है

 

छाती के भाई और दर्द होते हैं तो इस बात का अंदाज लगा सकते हैं कि आपको दिल का दौरान पड़ा है इसके अलावा छाती में दर्द होने के और भी वजह होती है या कभी-कभी जानलेवा भी सबित हो जाति है इसलिए छाती की बाई और जैसे ही आपको दबाव या भारीपन महसूस हो तो गले जबडे या पीठ में भी दर्द हो तो तुरतं डॉक्टर से संपर्क करें.

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top