सबसे पहले जानते हैं सॉफ्टवेर क्या होता है ?

 

सॉफ्टवेर हमारे कंप्यूटर का एक ऐसा चीज होता है जिसे हम अपने हाँथों से छु कर अनुभव नहीं सकते ! यह एक ऐसा चीज है
जो हमारे कंप्यूटर में जान डालकर एक इलेक्ट्रॉनिक्स मशीन को मनुष्य के समझने लायक बनाता है,

यह एक कंप्यूटर की भाषा में लिखा एक ऐसा कोड होता है जो एक आम मनुष्य आसानी से समझ नहीं सकता , लेकिन इसके पुरे इंस्ट्रक्शन सेट से बनाये गए प्रोग्राम को आसानी से समझ सकता है, और उसके माध्यम से कंप्यूटर को कमांड देकर कोई एक्सन करवा सकता है !

 

कंप्यूटर में इस्तेमाल होने वाले सॉफ्टवेर को दो भागों में बांटा गया है :-

सिस्टम सॉफ्टवेर (System Software)
एप्लीकेशन सॉफ्टवेर Application Software
)

सिस्टम सॉफ्टवेर – सिस्टम सॉफ्टवेर कंप्यूटर में उपयोग किये जाने वाले वे सॉफ्टवेर है, जिसके माध्यम से कंप्यूटर से जुड़े हार्डवेयर को नियंत्रित करता है, और सीधा कंप्यूटर के साथ कम्युनिकेट कर के यूजर की भाषा और कमांड को कंप्यूटर के हार्डवेयर को समझाने का काम करता है
उसे सिस्टम सॉफ्टवेर कहा जाता है |

सिस्टम सॉफ्टवेर के कुछ उधारण :- ऑपरेटिंग सिस्टम ,फर्मवेयर , यूटिलिटी सॉफ्टवेर ये सब सिस्टम के अंदर आते हैं क्यंकि ये सब सॉफ्टवेर कंप्यूटर के हार्डवेयर को मैनेज , मैन्टेनेस और नियंत्रित करने का काम करता है |

एप्लीकेशन सॉफ्टवेर वैसे सॉफ्टवेर को कहते है जिसे कंप्यूटर में सिस्टम सॉफ्टवेर को इनस्टॉल करने के बाद अपने जरुरत के अनुसार इनस्टॉल करते है जैसे ऑफिस के काम के लिए MS-office इनस्टॉल करते हैं और एकाउंटिंग के लिए tally इनस्टॉल करते हैं ठीक इसी प्रकार फोटो स्टूडियो के कार्य के लिए photoshop सॉफ्टवेर को इनस्टॉल किया जतय है!

Leave a Reply

Your email address will not be published.